गोवा की वो जगहें जहां आपको ज़रूर जाना चाहिए

(Last Updated On: February 7, 2022)

लोग अक्सर गोवा की कल्पना करते हैं तो ज़हन में बीच, बीयर और लेट नाइट पार्टी के नज़ारे ही आते हैं लेकिन इनके अलावा भी गोवा के कई रंग हैं। पैरासेलिंग, क्रूज़ राइड, स्नोर्कलिंग के अलावा यहाँ आप बर्ड वाचिंग, फ़िशिंग और ट्रेकिंग का आनंद भी उठा सकते हैं।

गोवा में घूमने की जगहें

 

नारियल के पेड़ों से सराबोर भारत के इस सबसे छोटे प्रदेश गोवा में एक पर्यटक के रूप में करने को इतना कुछ है कि इसके लिए कुछ दिनों की छुट्टियाँ काफ़ी नहीं होती। यहाँ जानिए गोवा में घूमने की बेहतरीन जगहों के बारे में।

 

1. काबो डे रामा के खंडहरों में छिपा गोवा का इतिहास 

 

गोवा के इस सबसे पुराने क़िले में गोवा के इतिहास की झांकी मिलती है। पुर्तगालियों के इस क़िले को जीतने से पहले इसपर पर कई आक्रमण हुए। हांलाकि क़िले का रखरखाव बहुत अच्छा नहीं है लेकिन आप यहाँ से लहराते समंदर के सुंदर नज़ारे एकांत का मज़ा लेते हुए देख सकते हैं।


2. चपोरा नदी पर हाउसबोट का अनुभव 

 

जी हाँ सिर्फ़ कश्मीर ही नहीं बल्कि गोवा में भी आप हाउसबोट का मज़ा ले सकते हैं। यहाँ की चपोरा नदी पर बने हाउसबोट में आप अपने परिवार के साथ खाने-पीने का आनंद ले सकते हैं या फिर अपने पार्टनर के साथ नाचते-गाते मज़ेदार अनुभव ले सकते हैं। दिन-रात चलने वाली यह हाउसबोट आपको गोवा का एक अलग ही रंग देखने का मौक़ा देती हैं। 


3. इल्हा ग्रैंड आइलैंड की समुद्री यात्रा 

 

कैलेंगट बीच से शुरू होने वाले इस सफ़र में करीब डेढ़ घंटे लगते हैं। बोट पर सवार होकर जब आप इस यात्रा पर निकलते हैं तो लहरों का रोमांच अंदर तक महसूस होता है। बोट के पीछे उड़ आते पंछियों के समूहों की उड़ान का दृश्य बेहद खूबसूरत लगता है। वहीं अगर आप भाग्यवान हुए तो हिलोरें लेते पानी से बाहर छलांग मारती डॉलफ़िन भी आपको नज़र आ जाएँगी। अगर आप यात्रा के रोमांच को और बढ़ाना चाहते हैं तो आइलैंड पर पहुँचकर स्वादिष्ट गोवन लंच से पहले आप तैराकी और स्नोर्कलिंग का अनुभव भी ले सकते हैं। समुद्र के भीतर की दुनिया को अपनी आँखों के सामने देखना वाक़ई अलग अनुभव साबित होता है। 


4. सबसे ऊँचे झरनों में से एक दूधसागर

 

भगवान महावीर वन्य अभयारण्य और मोल्लेम राष्ट्रीय उद्यान के बीच बना दूधसागर झरना गोवा की बेहतरीन जगहों में से एक है। यहाँ का पानी दूध जैसा सफ़ेद होता है इसलिए इसे दूधसागर कहा जाता है। भारत के सबसे ऊँचे झरनों में से एक दूधसागर झरने में ख़ासतौर पर मानसून के समय पानी उफान पर होता है। ख़ास बात यह है कि यह झरना चार स्तरों का है जिसकी ऊँचाई क़रीब 310 मीटर है। भगवान महावीर वन्य अभयारण्य के बीच से गुजरने वाली सड़क पर कल-कल बहती नदियों के किनारे सड़क मार्ग से यहाँ पहुँचने की यात्रा भी कम खूबसूरत नहीं है।  


5. कोला बीच के बैकवाटर्स 

 

गोवा में रात नॉर्थ गोवा के वैगेटोर और बागा जैसे भीड़ भरे गोवा के बीच अपनी नाइट लाइफ़ के लिए मशहूर हैं। लेकिन भीड़  से दूर सुकूनदेह समय बिताना हो तो आप साउथ गोवा के इस बीच की तरफ़ आ सकते हैं। ख़ास बात यह है कि यहाँ आपको सामने लहराता हुआ समंदर नज़र आएगा और दूसरी तरफ़ शांत बैकवाटर भी देखने को मिलेंगे। आप चाहें तो गुनगुनी धूप के बीच इनमें डुबकी लगाकर खुद को तरो-ताज़ा भी कर सकते हैं। किनारे बने कैफ़े में शैक्स पर बैठकर सूर्यास्त होते हुए देखना वाक़ई कमाल का अनुभव है। 


6. ओल्ड गोवा के सुंदर चर्च 

 

ओल्ड गोवा में द बेसिलिका ऑफ़ बोम जीजस जैसे बहुचर्चित चर्च भी हैं जिन्हें यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज साइट का दर्जा मिला हुआ है तो वहीं चैपल ऑफ़ अवर लेडी ऑफ़ द माउंट जैसे चर्च भी हैं जिनके बारे में कम लोग जानते हैं। यहाँ आकर गोवा का एक दूसरा ही रूप नज़र आता है। इन चर्च का स्थापत्य तो देखने लायक है ही इनकी कहानियाँ भी बहुत रोचक हैं। क़रीब चार सौ साल पुराने बेसिलिका ऑफ़ बोम जीजस चर्च में सेंट फ़्रेंसिस ज़ेवियर का मृत शरीर के अवशेष भी सुरक्षित रखे गए हैं जिसके दर्शन करने लोग दूर-दूर से यहाँ आते हैं। इसके अलावा ‘से’ कथीड्रल की खूसबूरत इमारत के दीदार भी आपको ज़रूर करने चाहिए। सलीब पर चढ़े ईसमसीह की मूर्ति वाली सफ़ेद रंग की यह इमारत अपनी ओर आकर्षित करती है। 


7. दिवर आइलैंड के शांत बीच

 

चहल-पहल और शोर-शराबे से दूर मंडोवी नदी पर बना यह द्वीप शांति प्रिय लोगों के लिए बेहतरीन सैरगाह है। इस द्वीप के बारे में कम ही लोग जानते हैं लेकिन यहाँ से आप बेहद खूबसूरत समुद्री नज़ारे देख सकते हैं। अगस्त के महीने में यहाँ बोंडेरम फ़ेस्टिवल होता है। फ़सलों की कटाई शुरू होने की ख़ुशी में मनाए जाने वाले फ़ेस्टिवल में शिरकत करना भी एक अलहदा अनुभव होता है।


गोवा कैसे पहुँचें

 

गोवा का नज़दीकी हवाई अड्डा दाबोलिम है जो राजधानी पणजी से क़रीब तीस किलोमीटर की दूरी पर है। यहाँ से कैब लेकर आप गोवा के किसी भी हिस्से में जा सकते हैं। मडगाँव और वास्को डे गामा यहाँ के सबसे नज़दीकी और प्रमुख रेलवे स्टेशन हैं जहां मुंबई, दिल्ली जैसे बड़े शहरों से सीधे पहुँचा जा सकता है। पणजी के बस स्टेशन तक देश के अहम शहरों से बस लेकर भी यहाँ पहुँचा जा सकता है। 


गोवा कब जाएँ 

 

गोवा के हर मौसम का अपना मज़ा है। नवंबर से मार्च के बीच यहाँ सबसे ज़्यादा पर्यटक आते हैं। जून से अगस्त के बीच में आप यहाँ के मानसून का मज़ा ले सकते हैं। हांलाकि इस वक्त यहाँ भीड़ कम रहती है इसलिए बीच किनारे कई कैफ़े कुछ समय के बंद हो जाते हैं।

तो ये थी गोवा में घूमने की कुछ जगहें जहां आपको एक न एक बार ज़रूर जाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
गोवा ट्रिप पर इन 10 बेस्ट बीच पर ज़रूर जाएं फी फी आइलैंड फुकेत में घूमने की जगहें ट्रैवल इंश्योरेंस क्या है और क्यों है ज़रूरी मुनस्यारी में घूमने की टॉप 5 जगहें थाईलैंड के फुकेत में घूमने की टॉप 5 जगहें थाईलैंड ट्रिप से पहले जान लें ये 5 ज़रूरी बातें भारत में घूमने के लिए टॉप 10 झीलें शिलांग में घूमने की टॉप 5 जगहें मुंबई के आस-पास के टॉप 5 बीच उत्तराखंड में घूमने की टॉप 6 जगहें