ट्रैवल इंश्योरेंस (travel insurance) क्या होता है और यह क्यों है ज़रूरी

(Last Updated On: August 3, 2022)

ट्रैवल इंश्योरेंस (travel insurance), अगर आप विदेश यात्राएँ करने का मन बना रहे हैं तो यह एक ज़रूरी दस्तावेज़ है जिसकी आपको ज़रूरत पड़ने वाली है। ज़्यादातर विदेश यात्राओं के लिए International travel insurance वीज़ा के लिए ज़रूरी दस्तावेज़ में शामिल रहता है।

क्या होता है International travel insurance

विदेश यात्राओं के लिए आमतौर पर आप एक बज़ट तैयार करते हैं और कोशिश करते हैं कि उस बज़ट में आपकी यात्रा अच्छे से पूरी हो जाए। लेकिन क्या हो कि यात्रा के दौरान आप बीमार पड़ जाएं या आपके साथ कोई दुर्घटना हो जाए या फिर आपका सामान ही खो जाए।

ऐसे में हो सकता है कि किसी देश की स्वास्थ्य सुविधाएँ इतनी महँगी हों कि आपकी जेब उनका भार ही न उठा पाए। इसी स्थिति में ट्रैवल इंश्योरेंस या यात्रा बीमा आपके बहुत काम आता है।

ट्रैवल इंश्योरेंस की मदद से आपको यात्रा के दौरान होने वाली इन आपातकालीन असुविधाओं की चिंता से मुक्ति मिलती है। साथ ही आप अपने बज़ट में यात्रा सम्पन्न भी कर पाते हैं।


Travel insurance कैसे चुनें

आजकल कई सारी कम्पनियाँ ट्रैवल इंश्योरेंस उपलब्ध कराती हैं। अगर आप किसी ट्रैवल एजेंसी के ज़रिए अपनी ट्रैवल प्लानिंग कर रहे हैं तो संभव है कि वही आपके लिए ट्रैवल इंश्योरेंस बुक कर दें। लेकिन आप खुद से यात्रा प्लान कर रहे हैं तो आपको इसके लिए रिसर्च करनी होगी।

अलग-अलग बैंकिंग और अन्य कंपनी यात्रा बीमा के कारोबार में हैं आप इंटरनेट पर सर्च करके या खुद इनके दफ़्तर विज़िट करके बीमा के बारे में जानकारी ले सकते हैं। बीमा से जुड़े सभी दस्तावेज़, नियम व शर्तें पहले से जान लेना बेहतर रहता है।

अलग-अलग देश में यात्रा के लिए अलग-अलग क़ीमत के ट्रैवल इंश्योरेंस की ज़रूरत होती है। जैसे थाईलैंड जाने के लिए आपके पास कम से कम बीस हज़ार यूएस डॉलर का कवर होना चाहिए। इसी तरह हर देश की अपनी शर्तें होती हैं। जहां आप जा रहे हों उस हिसाब से अपना इंश्योरेंस बुक करें।

मसलन आपको पोलिसी में मेडिकल कवर कितना मिल रहा है, क्या उसमें सामान खोने पर भत्ते की सुविधा है, कौन-कौन सी बीमारियाँ पोलिसी में कवर हो रही हैं कौन सी नहीं। ये कुछ सामान्य सी जानकारियाँ हैं जो आपको इंश्योरेंस से पहले पता कर लेनी चाहिए।


ट्रैवल इंश्योरेंस में क्या नहीं होता कवर

युद्ध की स्थिति में होने वाले नुक़सान, आत्महत्या, एडवेंचर स्पोर्ट्स या ख़तरे वाली गतिविधियों से होने वाली दुर्घटना और पहले से मौजूद बीमारी जैसी स्थितियों में ट्रैवल इंश्योरेंस का कवर नहीं मिलता।

International travel insurance एक निश्चित अवधि तक ही मान्य होता है। आमतौर पर यह आपकी यात्रा की अवधि या उससे कुछ ज़्यादा समय के लिए मान्य हो सकता है लेकिन यह अवधि पूरी होने के बाद आपको इंश्योरेंस का लाभ नहीं मिलेगा।


 

कोविड काल में अंतरराष्ट्रीय ट्रैवल इंश्योरेंस

(International travel insurance with COVID cover)

कोविड वायरस के चलते इन दिनों यह देख लेना ज़रूरी है कि आपका इंश्योरेंस कोविड इंफ़ेक्शन हो जाने की सूरत में आपको कवर दे रहा है या नहीं। क्योंकि अगर आपको इंफ़ेक्शन हो गया तो क्वारंटीन की शर्तों को पूरा करने के चलते आपको काफ़ी पैसा खर्च करना पड़ सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
फी फी आइलैंड फुकेत में घूमने की जगहें ट्रैवल इंश्योरेंस क्या है और क्यों है ज़रूरी मुनस्यारी में घूमने की टॉप 5 जगहें थाईलैंड के फुकेत में घूमने की टॉप 5 जगहें थाईलैंड ट्रिप से पहले जान लें ये 5 ज़रूरी बातें भारत में घूमने के लिए टॉप 10 झीलें शिलांग में घूमने की टॉप 5 जगहें मुंबई के आस-पास के टॉप 5 बीच उत्तराखंड में घूमने की टॉप 6 जगहें जयपुर में घूमने की टॉप 5 जगहें