ल्यूसर्न की रूस नदी और ख़ूबसूरत चैपल ब्रिज

अपनी यूरोप यात्रा के अगले दिन हम सुबह-सुबह बस में बैठकर पेरिस से ल्यूसर्न की तरफ़ निकले. ये सफ़र क़रीब 600 किलोमीटर का था और…

फ़्लोरेंस की अनोखी मूर्तियां और पीसा की झुकी मीनार

किताबों के पन्ने पलटते हुए माइकलएंजिलो और गैलीलियो के नाम ज़िंदगी में आए और ज़िंदगी के पन्ने पलटते हुए आज मैं उनकी यादों के शहर…

हिमाचल के जिभी में बर्फ़, बारिश और धूप के मज़े

बर्फ़ का गिरना दुनिया के सबसे मुलायम और ख़ूबसूरत अहसासों में से एक है. गिरती हुई बर्फ़ आपको अपने भीतर मौजूद सुकून की तरफ़ ले…

गुलाबी नगरी जयपुर का सफ़र

वो दोपहर का वक्त था जब हम दिल्ली से जयपुर की तरफ़ रवाना हुए. दिल्ली-जयपुर हाइवे गुड़गाँव से होकर निकलता है. यह एक पारिवारिक ट्रिप…

लहराते समंदर पर बना अनूठा शहर है वेनिस 

यह 2018 में की गई मेरी यूरोप यात्रा के वृत्तांत हैं जो दैनिक भास्कर में सिलसिलेवार प्रकाशित हो रहे हैं. पूरी यूरोप यात्रा सीरीज़ पढ़ने…

दुनिया के सबसे बड़े नदी द्वीप माजुली की यात्रा 

यह लेख इससे पहले दैनिक जागरण में प्रकाशित हो चुका है. मैं पूर्वोत्तर के राज्य असम के जोरहाट में था. यहां एक रोचक यात्रा मेरा…

गंगा की लहरों में राफ़्टिंग का मज़ा : ऋषिकेश ट्रिप-2

ऋषिकेश यात्रा का यह वृत्तांत दो हिस्सों में हैं. यहां पेश है दूसरा भाग. पहला भाग आप यहां पढ़ सकते हैं. तीसरा दिन  राफ़्टिंग का…

गंगा का शांत किनारा और पटना वॉटरफ़ॉल : ऋषिकेश यात्रा-1

ऋषिकेश यात्रा का यह वृत्तांत दो हिस्सों में है. यहां पेश है पहला भाग  पहला दिन  गंगा नदी के शांत किनारे में बीती शाम  29…

लोकतक झील के अनौखे तैरते द्वीप की यात्रा (मणिपुर ट्रिप-2)

मणिपुर यात्रा का पहला भाग यहां पढ़ें अगले दिन मणिपुर के इम्फ़ाल से करीब 40 किलोमीटर का सफ़र तय करके हम मोईरांग पहुंचे. वहां से…

कांगला फ़ोर्ट और इमा बाज़ार की यात्रा (मणिपुर ट्रिप -1)

सुबह के साढ़े-चार बज रहे थे. नेशनल हाइवे-39 पर मौजूद माओगेट से नागालैंड की सीमा समाप्त हुई और हमने मणिपुर में प्रवेश कर लिया. देश…

साहित्य आज तक 2019 में घुमक्कड़ी पर चर्चा

साहित्य आजतक 2019 में ‘एवरेस्ट से भी ऊंचा’ नाम से सेशन हुआ जिसमें उमेश पंत ने भी अपनी बातें रखी. उन बातों का लब्बोलुबाब ‘आजतक’…

कामसूत्र की मूर्तियों के लिए मशहूर खजुराहो में एक दिन

साल 2016 के मार्च का महीना था. मैं तब बुंदेलखंड के बीहड़ इलाके में एक रिपोर्टिंग असाइनमेंट पर था जब पता चला कि खजुराहो यहां…

20 हज़ार फ़ीट से भी ज़्यादा ऊंचे ओम पर्वत की यात्रा

यह उमेश पंत के यात्रावृत्तांत ‘इनरलाइन पास’ का एक अंश है. पूरा यात्रा वृत्तांत पढ़ने के लिए किताब यहां से मंगा सकते हैं. हम इस…

वैली ऑफ़ फ़्लावर यात्रा : भाग-2

वैली ऑफ़ फ़्लावर यात्रा का पहला हिस्सा यहां पढ़ें.  चौथा दिन  गोविंदघाट–घंघरिया 27 जून 2016 सुबह-सुबह हम गोविंदघाट के अपने होटल से निकल गए. गुरुद्वारे…

वैली ऑफ़ फ़्लावर यात्रा : भाग-1

पहला दिन  दिल्ली– देवप्रयाग 24 जून 2016   वैली ऑफ़ फ़्लावर जाने की तमन्ना बहुत पुरानी थी. जून का महीना चल रहा था. साल था…

त्रयम्बकेश्वर, जहां 12 साल में लगता है कुंभ मेला

अगर कभी हसीन पहाड़ी वादियों में जाकर धार्मिक आस्था से सराबोर होने का मन हो तो त्रयम्बकेश्वर आपके लिए एकदम मुफ़ीद जगह है। महाराष्ट्र के…

पिंडारी ग्लेशियर ट्रैक पर जाने से पहले यह ज़रूर पढ़ें

नोट : यह लेख हिन्दी दैनिक अख़बार ‘दैनिक जागरण में प्रकाशित हो चुका है’   ट्रैकिंग में रुचि रखने वालों के लिए पिंडारी ग्लेशियर ट्रैक…

उत्तराखंड बाइक यात्रा – 5

पाँचवा दिन : गंगोलीहाट- बागेश्वर – सोमेश्वर – रानीखेत सुबह-सुबह गंगोलीहाट से निकल पड़े. आज का पड़ाव अभी तय नहीं हुआ था. मगर इस बार…

अलीबाग, काशिद, मुरुड और दिव्यागार बीच का सफ़र

मुंबई में रहते हुए कभी-कभी मुंबई से  दूर जाने का मन होता है। पागल करती भीड़ से दूर। एक बेवजह सा प्रदूषित ठहराव लाते ट्रेफिक…

अरुणाचल प्रदेश यात्रा : बोमडिला से तवांग वाया सेला पास

यह लेख मूलतः  ‘दैनिक जागरण’ के लिए लिखा गया था जो अख़बार के ‘सप्तरंग’ पन्ने पर प्रकाशित हो चुका है.      पूर्वोत्तर के शांत…

पिंडारी ग्लेशियर ट्रैक : भाग-3

यहां पढ़ें पिंडारी ग्लेशियर ट्रैक : भाग-1 पिंडारी ग्लेशियर ट्रैक : भाग-2 दिन 4 14 जून 2019 फुरकिया–ज़ीरो पॉइंट–द्वाली सुबह-सुबह नींद खुली तो सर का भारीपन…

पिंडारी ग्लेशियर ट्रैक : भाग-2

यहां पढ़ें : पिंडारी ग्लेशियर ट्रैक – भाग एक  दिन 3 13 जून 2019 खाती–फुरकिया सुबह के 8 बजे जब हम खाती गाँव से निकले तो…

पिंडारी ग्लेशियर ट्रैक : भाग-1

नौ जून की रात के नौ बजे तक मैं अपना सारा ज़रूरी सामान एक रकसैक में डाल चुका था। कुछ गर्म कपड़े, साफ़-सफ़ाई का सामान,…

नज़ारे, नागालैंड की ख़ूबसूरत ज़ूको वैली के

नागालैंड देश के उन राज्यों में से हैं, जिसके बारे में लोग आज भी कम जानते हैं. इस राज्य में क़रीब 17 जनजातियां रहती हैं…

तेजपुर : मिथकों और मोहब्बत का शहर

असम के तेजपर से लौटकर लिखा गया यह लेख ‘दैनिक जागरण’ के राष्ट्रीय संस्करण में प्रकाशित हो चुका है. लहराती हुई विशाल ब्रह्मपुत्र नदी के…

तो ऐसी है वैली ऑफ़ फ़्लावर्स की दुनिया

उत्तराखंड में यूं तो ट्रेकिंग के कई ठिकाने हैं, लेकिन एक जगह जहां आपको अपनी ज़िंदगी में एक बार ज़रूर जाना चाहिए वो है-वैली ऑफ़…

डाउकी जहां बहती है मेघालय की सबसे ख़ूबसूरत नदी

उमेश पंत : मेघालय में यूं तो गनोल, दरिंग, बुगई, ख्री, उमियम जैसी कई नदियां बहती हैं. लेकिन शिलोंग से क़रीब 82 किलोमीटर दूर है एक…

माजुली के मुखौटे

असम का माजुली किसी नदी पर बना दुनिया का सबसे बड़ा द्वीप है। देश का पहला रिवर आइलेंड डिस्ट्रिक्ट भी। यह नदी द्वीप न केवल…

उत्तराखंड में ट्रेकिंग के ख़ूबसूरत ठिकाने केदारकांटा की तस्वीरें

उमेश पंत : उत्तराखंड में उत्तरकाशी ज़िले के सांकरी नाम के एक छोटे गाँव से खुलते हैं जन्नत के दरवाज़े। केदारकांटा सांकरी से क़रीब 8…

उत्तराखंड के बेहतरीन ट्रैक में से एक केदारकांटा की ट्रेकिंग

बर्फ़ीले रास्ते, जमी हुई झील के किनारे रात को कैम्पिंग, 12500 फ़ीट की ऊंचाई से हिमालय के दीदार, उत्तराखंड में केदारकांटा के इस एक ट्रैक…
Aadi Kailas trek last point

17 हज़ार फ़ीट की ऊँचाई पर दिखती है ज़िंदगी की गहराई

यह उमेश पंत के यात्रावृत्तांत ‘इनरलाइन पास’ का एक अंश है. पूरा यात्रा वृत्तांत पढ़ने के लिए किताब यहां से मंगा सकते हैं.   हम…

सोलांग वैली : बर्फ से बाबस्ता वो ढाई घंटे

ये एक आम ट्रिप होने जा रहा था. हम पहली रात कुल्लू (हिमांचल प्रदेश) में एक होटल बुक कर चुके थे. जिसकी बालकनी से जगमगाता…

उत्तराखंड बाइक यात्रा -4

चौथा दिन : बेरीनाग-चौकौड़ी-राईआगर-गंगोलीहाट  सुबह-सुबह हम बेरीनाग से चौकोड़ी के रवाना हो गए. मौसम एकदम खुला हुआ था. आकाश एकदम साफ़ और हवा मंद मंद…

उत्तराखंड बाइक यात्रा – 3

तीसरा दिन: अल्मोड़ा-धौलछीना-सेराघाट-राईआगर-बेरीनाग सुबह के करीब साड़े नौ बजे हम अल्मोड़ा से रवाना हुए। अब तक बिना नागा भागती बाइक को अब कुछ ईंधन की…

उत्तराखंड बाइक यात्रा – 2

दूसरा दिन: नौकुचियाताल-गागर-रामगढ़-प्यूरा-अल्मोड़ा पहले दिन के सफर की थकन रात को एक अच्छी नीद में तब्दील हुई तो सुबह-सुबह आंख खुल गई। करीब साढ़े छह…

उत्तराखंड बाइक यात्रा -1

पहला दिन: दिल्ली-रामपुर-नौकुचियाताल 21 नवम्बर से 27 नवम्बर हम लगातार हिमालय का पीछा करने वाले थे। 20 तारीख की सुबह ठीक साड़े छह बजे जब…

एक गुफा जहां होता है पाताल लोक का अहसास

उत्तराखंड की पहाड़ी वादियों  के बीच बसे सीमान्त कस्बे गंगोलीहाट की पाताल भुवनेश्वर गुफा किसी आश्चर्य से कम नही है। यहां पत्थरों से बना एक-एक…
error: Content is protected !!